सपनो को कैसे पूरा करें! How to achieve your dreams

कोशिश का परिणाम हमेशा जीत के रूप में बाहर आए ऐसा मुमकिन नहीं होता ! क्योंकि हर कोशिश जीत बन जाए ऐसा कभी हो ही नहीं सकता ! लेकिन जितनी भी जीत मिली है वह सब कोशिश का ही परिणाम है ! ऐसा जरूर है ! वह सौ प्रतिशत है ! कामयाबी कैसे पाएं पूरा कोर्स ! Part 1

इस जीत के लिए या यूं कहें की जीत मिलने से पहले जो हार मिलती है! उसको स्वीकार करने के लिए भी हमें तैयार रहना चाहिए ! क्योंकि दोस्तों जब जीत मिल जाती है तो हर किसी के पास कोई ना कोई  प्रतिक्रिया देने के लिए होती है ! मगर जब आपको हार मिलती है तो लोगों की समझ में नहीं आता कि उस वक्त कैसी  प्रतिक्रिया दी जाए ! 

How to achieve success! सफलता कैसे मिलेगी 

यही वह वक्त होता है कि जब अच्छे-अच्छे बिखर जाते हैं । और जो लोग इन हालात से लड़ना सीख लेते हैं वह निखर जाते हैं । मगर दोस्तों एक चीज हमेशा याद रखना की तैयारी पहले से होती है । लोग कहते हैं कि जीत की तैयारी पहले से होती हैं । मगर मैं कहना चाहता हूं कि हार की तैयारी पहले ही कर लेनी चाहिए । हार कर दोबारा खड़े होने की तैयारी पहले ही कर लेनी चाहिए ।

दोस्तों देखिए आप कल्पना कीजिए कि आपकी जिंदगी में सब कुछ सही चल रहा है । एक दिन अचानक से बाढ़ आती है । और आप पानी में डूबने लगते हो । तो दोस्तों उस वक्त आप एक शर्त पर बच सकते हो । अगर आपको तैरना आता हो तो । मगर दोस्तों खुद सोचिए कि आपने अगर तैरना सीखा ही नहीं तो जिस वक्त आप डूब रहे हो तो क्या उस वक्त तैरना आ सकता है ? इसका जवाब एक ही  हो सकता है  कि नहीं ! ऐसा होना संभव नहीं है ! तो दोस्तों जो यह तैरने की बात है अब इसी को हम दूसरे तरीके से समझते हैं !

 सफलता पाने के लिये यह जरूरी है 

देखिए इंसान की  जिंदगी मे या तो अच्छा हो रहा होता या वह  सामान्य चल रही होती है । जहाँ बहुत ज्यादा अच्छा भी नहीं है । बहुत ज्यादा बुरा भी नहीं है । तो दोस्तों यही वक्त होता है खुद पर काम करने का । क्योंकि जब कुछ बहुत अच्छा हो रहा है तो तब भी हम पर भावनाएं भारी होती है । हम अति उत्साहित रहते हैं! और तब हमारे साथ बुरा होता है । तब भी भावनाओं ने हमें जकड़ा होता है ! परेशानी में इंसान वैसे ही नकारात्मक हो जाता है! वह खुद को कमजोर महसूस करता है!

तो उस वक्त हमारे हाथ में नहीं होता कि हम कुछ सीख पाए । कुछ नया कर पाए । लेकिन जो वक्त हमारा सामान्य होता है वह वक्त सबसे अच्छा होता है । हमारे सीखने के लिए । उस वक्त हम वह बन सकते हैं । हम उस चीज की बनने की तैयारी कर सकते हैं । जिस चीज की हमें जरूरत है ।

Success key कामयाबी कैसे पाएं!

अगर आप सपनों के पीछे भाग रहे हो और उन्हें पूरा करने की जिद लगा ली है तो इतना आप मान लीजिए कि कई बार आपको हार का सामना करना पड़ेगा । तो दोस्तों इस हार से आपको निकलने के लिए  सकारात्मक विचारों की आवश्यकता होगी । लेकिन जब कोई हारता है तो उसके मन में  , उसके आसपास के माहौल में नकारात्मक विचार पैदा हो जाते हैं । अगर आपने उस सामान्य समय में खुद पर काम नहीं किया और खुद को सकारात्मक विचार नहीं दिए तो यह हार आपको तोड़ देगी । कुछ लोग हार कर बिखर जाते हैं । यह वही  परिस्थिति है जहाँँ पर कुछ लोग हार कर आत्महत्या तक कर लेते हैं । और  यहीं से कुछ लोग हार कर दोबारा खड़े हो जाते हैं । और वह जीत की नई कहानी लिख देते है ।

Jiwan me safalta kaise paye! 

मगर यहाँँ पर जो फर्क होता है वह यही फर्क होता है कि इंसान ने अपने आप को किस प्रकार के व्यक्तित्व में ढाला है । दोस्तों आप कल्पना कीजिए कि बहुत सारा पानी है । और उसमें आपने थोड़ा बहुत रंग डाल दिया है तो दोस्तों यहाँँ पर हम रंग को नकारात्मक विचार मान लेते हैं । और बहुत सारे पानी को  सकारात्मक  विचार मान लेते हैं  । Our youtube channel link! यहां आपको और भी ज्यादा बिजनेस के बारे में जानकारी मिलेगी! इसमें हमारे चैनल पर आकर सब्सक्राइब जरूर करें.   !   

 

अगर दोस्तों आपके अंदर बहुत सारे सकारात्मक विचार हैं और उसमें जब रंग मिलाया जाएगा तो एक बार उसका प्रभाव जरूर पड़ेगा । यानी कि जिस जगह पर रंग पानी में मिलेगा वहां पर पानी का रंग वैसा ही हो जाएगा जिस प्रकार का रंग पानी में डालोगे । उसी प्रकार अगर आपके अंदर  सकारात्मक ऊर्जा है और बहुत ज्यादा भी है तो इस प्रकार आपको  अगर नकारात्मक  ऊर्जा  मिलेगी तो हो सकता है आप कुछ पल के लिए , कुछ दिन के लिए , कुछ सप्ताह के लिए या कुछ महीनों के लिए नकारात्मक हो सकते हो ।

Jindgi me kamyabi kaise paye 

मगर दोस्तों अगर आपके अंदर  सकारात्मक  विचार बहुत ज्यादा है तो धीरे-धीरे वह सकारात्मक विचार आपके अंदर जो नकारात्मक ऊर्जा हार के बाद पैदा हुई थी उसको खत्म कर देंगे । और आप फिर से  सकारात्मक हो जाओगे ।आप फिर से लड़ाई लड़ने के लिए दोबारा उठ जाओगे । मगर दोस्तों अब इसी चीज को हम दूसरे तरीके से समझते हैं ।

मान लीजिए कि आपके अंदर नकारात्मक विचारों का खजाना है , निराशा है और ऊपर से आपको हार मिली है । तो दोस्तों क्या होगा ? आप और ज्यादा नकारात्मक हो जाओगे और कभी फिर दोबारा खड़ा नहीं हो पाओगे !  या यूं कहें कि आपके अंदर जो सकारात्मक विचार हैं वह बहुत थोड़े हैं यानी कि अगर पानी बहुत थोड़ा है । और जो उसमें नकारात्मक रंग मिलाया जाएगा । वह बहुत ज्यादा है तो दोस्तों जो पानी है वह रंगीन हो जाएगा । क्योंकि यह कुदरत का नियम है कि जो चीज ज्यादा होगी भले ही कुछ वक्त के लिए वह अपना आकार अपना रंग खो दे लेकिन कुछ वक्त बाद जो उसका असली व्यक्तित्व है , जो उसका असली रूप है ,वह उसी में जो रूप में आ जाएगी ।

खुद पर यकीन करना सीखिए!

आसमान के सूरज की तरफ देखिए और सोचिए जब ग्रहण होता है तो सूरज का वजूद मिट जाता है । मगर उसका वजूद हमेशा के लिए नहीं मिटता । वह कुछ घंटे या एक दिन के लिए मिट पाता है । अगले दिन सूरज फिर से अपने असली रूप में निकलता है क्योंकि उसका सच वही है । इसी प्रकार आप का सच भी वही है जो आप बन जाते हो । अगर आपके अंदर  सकारात्मक ऊर्जा है तो कुछ वक्त बाद आप वैसे बन जाओगे । अगर आपके पास नकारात्मक उर्जा है तो कोई आपको कितना भी मोटिवेट करें । आप उनकी मोटिवेशन बातें सुनकर कुछ मिनट , कुछ घंटे या कुछ दिन के लिए तो सकारात्मक हो सकते हो । मगर फिर आप अपने असली रूप में आ जाओगे ।

Sapne kaise pure करें! सपने कैसे पूरा करू! 

तो दोस्तों इसलिए जब भी आप सामान्य जीवन जी रहे हो तो उस वक्त खुद को सकारात्मक विचारों से जोड़ लीजिए ।  एक वक्त होता था जब  इस दुनिया में इंटरनेट नहीं था । तो लोग   अपने आसपास के माहौल से विचार लेते थे । वह विचार उन्हें अपने दोस्तों से , अपने परिवार से , अपने रिश्तेदारों से या अपने पड़ोसियों से मिलते थे । इसके अलावा उनके पास ज्यादा विकल्प नहीं होते थे की वह और लोगों के संपर्क में आ सके । मगर आज हमें जो यह इंटरनेट की सौगात मिली है इससे हम दुनिया के सब लोगों के बारे में जान सकते हैं। संपर्क में रह सकते हैं ।

Hmesha Motivate kaise rahe! हमेशा जिन्दगी में मोटीवेट कैसे रहे!

दोस्तों अगर आपने सपने बड़े देखे हैं तो आपको हर तरफ सकारात्मक विचारों की दीवारें खड़ी करनी होंगी । अपने अंदर के अलावा भी आपको बाहर ऐसे लोग जो सकारात्मक है उनके संपर्क में रहना पड़ेगा । जो लोग नकारात्मक हैं उनसे दूर रहना पड़ेगा । भले ही वह आपके परिवार के हो । आपके मित्रगण हो या आपके पड़ोसी हो ।

दोस्तों मैं यहां पर एक घटना का जिक्र करता हूं कि मुझे बिजनेस करने के लिए जगह किराए पर चाहिए थी । और मैंने अपने एक दोस्त को कहा कि मुझे कहीं जगह दिलवा दीजिए । तो दोस्तों मेरे उस दोस्त ने कहा कि  तुम जो भी काम करोगे वह नहीं चलेगा!

खुद को पॉजिटिव कैसे बनाये!

तो अगर एक हिसाब से मैं कहूं तो उन्होंने  जो नकारात्मक विचार थे वह मुझे देना शुरू कर दिया । मैं जब भी उससे मिलता वह हर बार काम ना चलने की बात कहता और मुझे बिजनेस ना करने की सलाह देता । जब मैंने उसे बताया कि मुझे तो करना ही है और मुझे जगह चाहिए तो उसने मुझे कहा कि अगर तुम्हें जगह चाहिए तो मेरे पास खाली जगह है । तुम मेरी जगह ले लो और अगर तुम्हारी मर्जी हो तो किराया जितना हो दे देना या बेशक किराया भी मत देना । तुम वह जगह फ्री में ले सकते हो । तो मैंने उस दोस्त को कहा कि नहीं मैं तुम्हारी जगह नहीं लूंगा ।

मैंने उससे कहा कि देखिए जब मैं अपना काम शुरू करूंगा और इतना मुझे पता है कि कोई भी काम शुरुआत में करना आसान नहीं होता । काम में मुश्किलें आती है । मुश्किलें कम हो सकती हैं , मुश्किलें ज्यादा हो सकती हैं , यह बहुत सारी चीजों पर निर्भर करता है ।

सपनो को कैसे पूरा करें 

 मैंने उसको कहा कि मान लिजिए जब मैं इस परेशानी में बैठा सोच रहा होगा कि मेरा काम नहीं चल रहा और मैं काम को चलाने के बारे में सोच रहा हूं और अपने अंदर काम चलाने के बारे में विचार पैदा कर रहा हूं । तो तुम अपनी जगह पर आओगे और मुझे दोबारा से वही बातें कहोगे कि काम नहीं चलेगा , ऐसा नहीं होगा , ऐसा नहीं होता है , वैसा नहीं होगा , वैसा हो ही नहीं सकता ! और फिर हो सकता है कि तुम्हारी नकारात्मक उर्जा मेरी सकारात्मक विचारों को पैदा ही न होने देगी । तो मैंने उससे कहा कि मैं तुम्हारी जगह किराये पर नहीं लूंगा ।

दोस्तों मैंने खुद चुनाव किया कि मुझे लोगों से दूर रहना चाहिए ।  अगर आपके आसपास भी ऐसे लोग हैं तो उनको अपने सपनों के बारे में कभी मत बताइए । चुपचाप से काम कीजिए। क्योंकि दोस्तों जब कोई आपके सपनों का मजाक उड़ायेगा और कोई आपको राय देगा तो  

 

1 thought on “सपनो को कैसे पूरा करें! How to achieve your dreams”

Leave a Comment

x